बिस्तर पर बेटे को नशा देने के लिए बेबस है ये मां, SP को फोन कर सुनाई दास्तां

महिला ने बताया कि वो गरीब परिवार से संबंध रखती है। बेटे को नशे की ऐसी आदत लगी कि वह बिस्तर तक पहुंच गया। अब वो इस स्थिति में है कि कई महीनों से बिस्तर पर पड़ा है और बिस्तर से उठ भी नहीं सकता।

बिस्तर पर बेटे को नशा देने के लिए बेबस है ये मां, SP को फोन कर सुनाई दास्तां
बेटे को नशा देने को बेबस मां (डिजाइन फोटो)।

बिलासपुर: नशा किस हद तक जिंदगी को बर्बाद कर सकता है, इसके बारे में एक बेबस मां की दास्तां जानकर आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे। पंचायत प्रतिनिधियों के साथ बैठक में बिलासपुर एसपी एसआर राणा जब मजबूर मां के बारे में बता रहे थे तो कई आंखें नम हो गईं थी। 

एसपी बताते हैं कि उन्हें आधी रात को एक मजबूर मां का फोन आया और महिला ने आपबीती सुनाई। महिला ने बताया कि वो गरीब परिवार से संबंध रखती है। बेटे को नशे की ऐसी आदत लगी कि वह बिस्तर तक पहुंच गया। अब वो इस स्थिति में है कि कई महीनों से बिस्तर पर पड़ा है और बिस्तर से उठ भी नहीं सकता। मगर मैं मां हूं ना, बेटे को जिंदा देखना चाहती हूं और इसी मजबूरी में अब मैं खुद नशा खरीदकर लाती हूं और उसे देती हूं, ताकि मेरा बच्चा जिंदा रह सके और मेरी आंखों के सामने रहे। मैं नहीं चाहती कि किसी और मां को भी ऐसी बदनसीबी का सामना करना पड़े। फोन पर महिला ने कहा कि नशा माफिया बहुत सक्रिय हो गया है। इन लोगों से सिर्फ आप ही हमारे बच्चों और आने वाली पीढ़ी को बचा सकते हैं। 

एसपी एसआर राणा बताते हैं कि महिला के फोन के बाद उनकी रातों की नींद उड़ चुकी है। महिला के दर्द को वो महसूस कर रहे हैं। एसपी कहते हैं कि नशे के कारोबार को खत्म करना उनकी प्राथमिकता है। इसके लिए समाज का सहयोग भी जरूरी है। उन्होंने अभिभावकों से अपील की है कि बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखें। उनके साथ दोस्ती का व्यवहार रखें और उन्हें खुद नशे से होने वाले नुकसान के प्रति जागरुक रखें।