पन्नू ने दी एक और धमकी, ऑडियो संदेश जारी कर CM को चेताया, SIT के हाथ खाली!

ऑडियो संदेश में पन्नू ने सीधे तौर पर सीएम जयराम ठाकुर को चेतावनी देते हुए कहा है कि मोहाली स्थित पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस विंग के हेडक्वार्टर में किए गए रॉकेट हमले से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सबक लें।

पन्नू ने दी एक और धमकी, ऑडियो संदेश जारी कर CM को चेताया, SIT के हाथ खाली!
पन्नू ने फिर जारी किया धमकी भरा ऑडियो।

पहाड़ प्राइम डेस्क: धर्मशाला विधानसभा में खालिस्तानी झंडा लगाने के बाद अलगाववादी समूह सिख फॉर जस्टिस के प्रमुख 
गुरपतवंत सिंह पन्नू ने प्रदेश सरकार के लिए दूसरी बार धमकी भरा ऑडियो संदेश जारी किया है। ऑडियो संदेश में आवाज 
की जांच जुन्गा लैब में की गई, जिसमें आवाज पन्नू की ही पाई गई है। ऑडियो संदेश यूएसए से एक वेब एप्लीकेशन के 
जरिए जारी की गई है। 

ऑडियो संदेश में पन्नू ने सीधे तौर पर सीएम जयराम ठाकुर को चेतावनी देते हुए कहा है कि मोहाली स्थित पंजाब पुलिस के 
इंटेलिजेंस विंग के हेडक्वार्टर में किए गए रॉकेट हमले से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सबक लें। यह हमला शिमला मुख्यालय में 
भी हो सकता था। सिख समुदाय को न भड़काया जाए, हिंसा के जवाब में हिंसा होती है। आपको बता दें कि पन्नू ने हिमाचल 
प्रदेश में 6 जून को खालिस्तान जनमत संग्रह मतदान की घोषणा की है और ऑडियो संदेश में प्रदेश सरकार को इसमें बाधा न 
डालने की चेतावनी दी है। 

एसआईटी के हाथ खाली
वहीं, धर्मशाला विधानसभा में खालिस्तानी झंडे लगवाने पर हिमाचल पुलिस ने पन्नू के खिलाफ यूपीए की धारा 13 और 
आईपीसी की धारा 153ए व 153बी और धारा तीन के तहत केस भी दर्ज किया है। राज्य पुलिस मुख्यालय ने सोमवार को 
इंटरपोल को पत्र लिखकर भी पन्नू के बारे में जानकारी मांगी है। पन्नू के खिलाफ जल्द ही आरोप पत्र तैयार कर अदालत में 
पेश किया जाएगा। मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी के हाथ अभी तक कुछ खास नहीं लग पाया है। विधानसभा 
परिसर के आस-पास के सीसीटीवी खंगाले गए हैं, लेकिन पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा है। 

सरकार की गंभीरता पर विपक्ष ने उठाए सवाल
मामले की कार्रवाई को लेकर विपक्षी पार्टियों ने भी प्रदेश सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह 
ने सीधे तौर पर जयराम सरकार को इसके लिए जिम्मेवार ठहराया है। मंगलवार को प्रेसवार्ता कर प्रतिभा सिंह ने कहा कि 
खालिस्तानी काफी समय से धमकियां दे रहे थे, लेकिन प्रदेश सरकार सो रही थी और जवाबी कार्रवाई नहीं कर रही थी। वहीं, 
आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने भी कई जगहों पर मामले में सरकार की संजीदगी को लेकर रोष रैली निकाली। हमीरपुर गांधी 
चौक पर रोष रैली में मौजूद कार्यकर्ताओं ने कहा कि सरकार खालिस्थानियो की गतिविधियों पर गंभीर नहीं है।