मेगा जॉब फेयर: निजी शिक्षण संस्थान नियामक आयोग लगाएगा रोजगार मेला, देश की नामी कंपनियां लेंगी इंटरव्यू

इस रोजगार मेले का स्थान बहारा यूनिवर्सिटी वाकनाघाट रखा गया है, जिसमें डेढ़ से दो हजार बेरोजगार यूवा भाग लेंगे। मुख्यमंत्री को रोजगार मेले के शुभारंभ करने का आयोग की तरफ से न्योता दिया गया है।

मेगा जॉब फेयर: निजी शिक्षण संस्थान नियामक आयोग लगाएगा रोजगार मेला, देश की नामी कंपनियां लेंगी इंटरव्यू
कॉन्सेप्ट इमेज।

शिमला: सरकारी नौकरी के अलावा प्राइवेट नौकरी करने में रुचि रखने वाले युवाओं के लिए हिमाचल प्रदेश निजी शिक्षण संस्थान नियामक आयोग 6 मई 2022 को हिमाचल प्रदेश के सभी उच्च शिक्षा संस्थानों, विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के लिए दूसरा मेगा जॉब फेयर का आयोजन कर रहा है। 

इस रोजगार मेले का स्थान बहारा यूनिवर्सिटी वाकनाघाट रखा गया है, जिसमें डेढ़ से दो हजार बेरोजगार यूवा भाग लेंगे। मुख्यमंत्री को रोजगार मेले के शुभारंभ करने का आयोग की तरफ से न्योता दिया गया है। 
हिमाचल प्रदेश नियामक आयोग के अध्यक्ष मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) अतुल कौशिक ने शिमला में पत्रकार वार्ता कर बताया कि मेगा जॉब फेयर एचपीपीईआरसी द्वारा आयोजित संयुक्त प्लेसमेंट ड्राइव की श्रृंखला में दूसरा है। पहला मेगा जॉब फेयर 25 नवंबर, 2021 को जेपी यूनिवर्सिटी ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, वाकनाघाट में आयोजित किया गया था। 

अतुल कौशिक बताते हैं कि इस वर्ष फिर से एचपीपीईआरसी हिमाचल प्रदेश के विभिन्न सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों और संस्थानों से वर्ष 2020, 2021 और 2022 में उत्तीर्ण छात्रों के लिए इसी प्रकार के संयुक्त प्लेसमेंट अभियान का संचालन करने की पहल कर रहा है। इस अभियान में सॉफ्टवेयर और आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स, विनिर्माण, निर्माण, प्रबंधन, फार्मेसी, नर्सिंग और कृषि आदि की विभिन्न कंपनियों के भाग लेने की उम्मीद है। इस प्लेसमेंट ड्राइव में सरकारी कॉलेज आईटीआई और पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रों को भी शामिल किया गया है। यह अभियान एक बड़ी सफलता होगी और उम्मीदवारों को उनके संबंधित रुचि के क्षेत्र में रोजगार मिलेगा।