चाचा ने भतीजे के काट दिए दोनों हाथ, भतीजे ने तोड़ा दम, आरोपी ने जला दिए खून से लथपथ कपड़े

डीएसपी घुमारवीं अनिल ठाकुर की अगुवाई में एक टीम भी मौके पर पहुंची। बताया ये जा रहा है कि दोनों रिश्ते में चाचा-भतीजा हैं।

चाचा ने भतीजे के काट दिए दोनों हाथ, भतीजे ने तोड़ा दम, आरोपी ने जला दिए खून से लथपथ कपड़े
घटनास्थल।

बिलासपुरः एक मामूली विवाद था और मामूली बहस हो गई। लेकिन ये बहस देखते ही देखते झगड़े में तब्दील हो गई। झगड़े में जब तब्दील हो गई तो झगड़ा इतना भयानक हुआ कि एक व्यक्ति ने तेजधार दराट से युवक पर हमला कर दिया। हमले में 31 साल के अरविंद की मौके पर मौत हो गई।

हमला करने वाले 57 साल के जगदीश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पूरा वाक्य क्या है वो आप आगे पढ़िए। दरअसल हुआ यूं कि घुमारवीं थाना के अंतर्गत किसी बात को लेकर अरविंद और जगदीश के बीच में बहस हो गई। नौबत हाथापाई तक आ गई। 57 साल के जगदीश ने बगल से तेजधार दराट उठाया और 31 साल के अरविंद पर हमला कर दिया। 

एसपी बिलासपुर ने तो यहां तक कहा कि युवक के दोनों हाथ काट दिए गए थे। दराट से कई गहरी चोटें पहुंचाई गई थी। युवक सड़क पर पड़ा था।

अरविंद ने मौके पर दम तोड़ दिया था। गांववालों ने पुलिस को सूचना दी। जब तक पुलिस पहुंचती तब तक वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने सबूत मिटाने के लिए खून से लथपथ अपने कपड़ों को जला दिया। लेकिन आरोपी इतना शातिर नहीं था कि तब तक वहां से फरार हो जाता। 

चूंकि आरोपी कोई पेशेवर हत्यारा नहीं था। पुलिस मौके पर पहुंची। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। घटनास्थल का निरीक्षण करते नजर आए पुलिस के अफसर। एसएचओ रजनीश, डीएसपी घुमारवीं अनिल ठाकुर की अगुवाई में एक टीम भी मौके पर पहुंची। बताया ये जा रहा है कि ये सारी वारदात आपसी रंजिश के चलते हुई। दोनों रिश्ते में चाचा भतीजा हैं।

उधर, एसपी बिलासपुर एसआर राणा ने भी खुद मौका-ए-वारदात पर जाकर निरीक्षण किया। पुलिस ने कई मामलों के तहत धाराएं जोड़ी है और आगामी जांच शुरू कर दी गई है। मामले की पुष्टि एसपी एसआर राणा ने की।

कहा कि हत्या के मामले में संलिप्त आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस मामले में और ज्यादा छानबीन कर रही है।