राणा ने निकाला समस्या का हल, जल्द खुलेगी लंबे समय से बंद पड़ी सड़क, जानें पूरा मामला

हमीरपुर मुख्यालय के समीपवर्ती गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा तक जाने वाली सड़क को न्यायालय के आदेश पर विभाग ने बंद कर दिया है। यह सड़क काफी पुरानी बताई जाती है। इस सड़क का 2002 में प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत विस्तारीकरण किया गया था, लेकिन विस्तारीकरण व पक्का करते समय इस सड़क की भूमि का अधिग्रहण नहीं किया गया था।

राणा ने निकाला समस्या का हल, जल्द खुलेगी लंबे समय से बंद पड़ी सड़क, जानें पूरा मामला
विधायक राजेंद्र राणा ने सुलझाया विवाद।

सुजानपुर: लंबे समय से बंद पड़ी हमीरपुर मुख्यालय के समीपवर्ती गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा तक जाने वाली सड़क को जल्द खोल दिया जाएगा। सड़क बंद होने की वजह से परेशान जनता की गुहार के बाद विधायक राजेंद्र राणा मामले में सुलह करवाने में कामयाब हुए हैं।

दरअसल, हमीरपुर मुख्यालय के समीपवर्ती गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा तक जाने वाली सड़क को न्यायालय के आदेश पर विभाग ने बंद कर दिया है। यह सड़क काफी पुरानी बताई जाती है। इस सड़क का 2002 में प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत विस्तारीकरण किया गया था, लेकिन विस्तारीकरण व पक्का करते समय इस सड़क की भूमि का अधिग्रहण नहीं किया गया था। जिस पर आपत्ति दर्ज करते हुए भूमि के मालिक ने 2009 में विभाग की इस गलती के लिए न्यायालय में चुनौती दी थी। 2015 में न्यायालय ने विभाग की गलती ठहराते हुए भूमि मालिकों के पक्ष में फैसला सुनाया। इसपर विभाग ने एक बार फिर इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी। जिसको लेकर अब हाईकोर्ट ने फैसले को बरकरार रखते हुए भूमि मालिकों के पक्ष में सड़क को बंद करने का आदेश सुनाया और विभाग ने यह सड़क बंद कर दी थी। 

लंबी बैठक के बाद राजी हुआ परिवार 
ऐसे में गरने के गलु से लेकर कुठेड़ा तक आसपास के गांवों की जनता को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। चूंकि यह सड़क सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है तो ऐसे में विधायक राणा ने समाज हित के इस कार्य में मध्यस्थता करने का फैसला लिया। पन्याला क्षेत्र की जनता की समस्या व मांग को लेकर विधायक राजेंद्र राणा कौश्लया देवी व उनके परिवार से इस बंद पड़ी सड़क की परेशानी को लेकर मिले और एक लंबी बैठक की और परिवार को सड़क खुलवाने के लिए राजी कर लिया। 

विधायक ने जताया परिवार का आभार
राणा ने कहा कि सड़क बंद होने से लोगों की दिक्कतों को गंभीरता से समझते हुए संबंधित परिवार से हुई मुलाकात में उन्होंने क्षेत्र की इस समस्या को संजीदा ढंग से लेते हुए शीघ्र ही बंद की गई सड़क को खोलने का भरोसा दिलाया है। परिवार से हुई बैठक पूरी तरह से सकारात्मक रही। परिवार हरगिज नहीं चाहता है कि उनके कारण क्षेत्रवासियों को कोई परेशानी हो। परिवार के साथ मुलाकात व बैठक करने के बाद वह यकीनी तौर पर कह सकते हैं कि गरने का गलु वाया पन्याला-कुठेड़ा सड़क शीघ्र ही यातायात के लिए खुलेगी। राणा ने परिवार का क्षेत्रवासियों की ओर से आभार व धन्यवाद प्रकट किया है।