शूलिनी मेले में साहिवाल, रेड सिंधी समेत कई नस्लों के गोवंशों की प्रदर्शनी

प्रदर्शनी में भाग ले रहे 80 पशुओं को जज करने के लिए एक टीम बनाई गई है। प्रत्येक श्रेणी में जो भी सबसे अच्छा पशु होगा, उसके मालिक को पुरस्कृत किया जाएगा।

शूलिनी मेले में साहिवाल, रेड सिंधी समेत कई नस्लों के गोवंशों की प्रदर्शनी

सोलन: तीन दिवसीय राज्य स्तरीय शूलिनी मेले के दूसरे दिन पशुपालन विभाग द्वारा गोवंश प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस प्रदर्शनी में पशुपालकों द्वारा विभिन्न नस्लों के 80 गोवंश लाए गए थे। इनमें साहिवाल, रेड सिंधी, गिर व अन्य शामिल थे।

सुबे के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने इस प्रदर्शनी का शुभारंभ किया और प्रदर्शनी में आईं विभिन्न नस्लों की गायों के बारे में जानकारी हासिल करने में भी रूचि दिखाई। प्रदर्शनी के दौरान बेहतरीन तरीके से पशुओं की देखभाल करने वाले पशुपालकों को सम्मानित भी किया गया।

प्रदर्शनी को लेकर स्वास्थ्य मंत्री डॉ राजीव ने कहा कि 2 साल पहले गोवंश प्रदर्शनी लगाने का फैसला लिया गया था, लेकिन कोरोना की वजह से दो साल तक प्रदर्शनी नहीं लग पाई। इस साल प्रदर्शनी को महत्वता दी गई। बताया कि प्रदर्शनी में 80 गोवंश हिस्सा ले रहे हैं। इस प्रदर्शनी का मुख्य उद्देश्य जिला भर में पाले जा रहे कुछ अच्छे पशुओं की प्रदर्शनी करना है, ताकि भारतीय नस्ल के पशुपालन को बढ़ावा मिले।

प्रदर्शनी में भाग ले रहे 80 पशुओं को जज करने के लिए एक टीम बनाई गई है। प्रत्येक श्रेणी में जो भी सबसे अच्छा पशु होगा, उसके मालिक को पुरस्कृत किया जाएगा। वहीं, स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि सड़क पर गोवंश को ना छोड़कर उनका पालन पोषण करें। क्योंकि वह आपके परिवार का ही एक सदस्य है।