"जमीन खोदकर भी लाए जाएंगे दोषी" पुलिस भर्ती धांधली पर CM का ताजा बयान

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि युवाओं के भविष्य को देखते हुए ही उन्होंने पुलिस भर्ती की लिखित परीक्षा को रद्द किया है और जल्द ही दोबारा से यह परीक्षा आयोजित करवाई जाएगी।

"जमीन खोदकर भी लाए जाएंगे दोषी" पुलिस भर्ती धांधली पर CM का ताजा बयान
कु्ल्लू में सीएम जयराम ठाकुर व अन्य।

कुल्लूः पुलिस भर्ती मामले में सरकार चारों तरफ से घिर चुकी है। विपक्ष लगातार हमलावर है तो सोशल मीडिया पर युवाओं का गुस्सा फूट रहा है। ऐसे में अब सरकार ने भी जांच तेज कर दी है। मामले में कई गिरफ्तारियां हो चुकी है।

चारों तरफ से घिरता देख सीएम जयराम ठाकुर भी अब एक्टिव मोड में नजर आ रहे हैं। सीएम ने आज कुल्लू में यहां तक कह दिया कि जमीन से खोद कर भी पुलिस भर्ती परीक्षा के दोषियों को निकाला जाएगा।

कुल्लू के सैंज घाटी दौरे पर पहुंचे सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि पुलिस भर्ती परीक्षा और जेओए की भर्ती मामले में जो भी आरोपी व दोषी होंगे। उन्हें जमीन से खोदकर भी लाया जाएगा। ताकि मेहनती युवाओं का भविष्य खराब ना हो सके। 

इतना ही नहीं, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि युवाओं के भविष्य को देखते हुए ही उन्होंने पुलिस भर्ती की लिखित परीक्षा को रद्द किया है और जल्द ही दोबारा से यह परीक्षा आयोजित करवाई जाएगी। इस मामले में चाहे आरोपी कितनी भी ऊंची पहुंचवाला क्यों ना हो। उस पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 

सीएम ने कहा कि प्रदेश में दोबारा इस तरह की स्थिति सामने ना आ सके। इसे लेकर सरकार तैयारी कर रही है। इसके अलावा आम आदमी पार्टी की हिमाचल में बढ़ती सक्रियता को लेकर भी मुख्यमंत्री ने जवाब दिया। सीएम ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि अब जनता को आम आदमी पार्टी की सच्चाई पता चल चुकी है और पंजाब में क्या हो रहा है। इससे भी जनता अब रूबरू होने लगी है।

सीएम ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कभी भी तीसरे विकल्प का कोई महत्व नहीं रहा है। जिस तरह से केजरीवाल हिमाचल आने के सपने देख रहे हैं, वो उनका सिर्फ सपना ही साबित होगा। 

इसके अलावा सीएम ने कुल्लू अस्पताल के मामले पर प्रदर्शन कर रही कांग्रेस पर भी निशाना साधा। कहा कि कांग्रेस सिर्फ धरने करने के लिए ही जानी जा रही है। उनके पास अब कोई भी काम नहीं बचा है। पूरे प्रदेश में डॉक्टरों की सबसे ज्यादा नियुक्तियां साढे 4 सालों में हुई है। कुल्लू अस्पताल के अलावा प्रदेश में जहां-जहां भी डॉक्टरों की कमी चल रही है। उन्हें भी अब जल्द भरा जाएगा। 

अब देखना ये है कि सीएम के इस बयान के बाद पुलिस भर्ती की जांच कितनी तेज हो पाएगी। प्रदेश में युवाओं के अंदर आक्रोश है जो सोशल मीडिया पर निकल रहा है। साथ ही विपक्ष भी इस मुद्दे को लेकर सरकार पर लगातार हमलावर है। उधर आज एनएसयूआई के कार्यकर्ता भी शिमला में सीएम का पुतला जलाती नजर आए।