केदारनाथ तीर्थयात्री पर गिरा बोल्डर, हालत गंभीर, AIIMS ऋषिकेश किया एयरलिफ्ट

गुरुवार को जिलाधिकारी के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई करते हुए बीमार व घायल हुए 11 यात्रियों को एयरलिफ्ट कर उनकी जान बचाई गई। इनमें चोट लगने के पांच मामले शामिल हैं।

केदारनाथ तीर्थयात्री पर गिरा बोल्डर, हालत गंभीर, AIIMS ऋषिकेश किया एयरलिफ्ट
घायल तीर्थयात्री AIIMS ऋषिकेश किया एयरलिफ्ट।

रुद्रप्रयाग: सबसे कठिनतम यात्रा में से एक चारधाम यात्रा में तीर्थयात्रियों की मुश्किलें मौसम खराब होने की वजह से बढ़ गई हैं। यात्रा के दौरान अबतक 10 तीर्थयात्री अपनी जान गंवा चुके हैं। गुरुवार को केदारनाथ धाम जा रहा छत्तीसगढ़ के रायगढ़ निवासी 62 वर्षीय तीर्थ यात्री के सिर पर अचानक से पहाड़ी से पत्थर गिर गया। इस दौरान व्यक्ति घायल हो गया 

घायल व्यक्ति को साथ आए अन्य यात्री एसएडी गौरीकुंड ले लाए। जहां उसके सिर पर लगी चोट का प्राथमिक उपचार किया गया। प्राथमिक उपचार के बाद घायल तीर्थ यात्री को 108 एंबुलेंस से सोनप्रयाग तक लाया गया। जहां पर यात्री की गंभीर हालत को देखते हुए जिला प्रशासन की टीम ने तत्काल उसे एम्स ऋषिकेश के लिए एयरलिफ्ट किया। 

घायलों को तुरंत अस्पताल पहुंचाने के निर्देश
गुरुवार को जिलाधिकारी के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई करते हुए बीमार व घायल हुए 11 यात्रियों को एयरलिफ्ट कर उनकी जान बचाई गई। इनमें चोट लगने के पांच मामले शामिल हैं। केदारनाथ धाम यात्रा में श्रद्धालुओं को हर संभव स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं तत्परता के साथ उपलब्ध करवाने के लिए जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया है, ताकि किसी भी तीर्थ यात्री का स्वास्थ्य खराब होने या किसी तरह की दुर्घटना होने पर उन्हें तत्काल स्वास्थ्य लाभ उपलब्ध कराया जा सके। 

बता दें कि केदारनाथ यात्रा मार्ग पर 16 चिकित्सा इकाईयों में अब तक 9,356 की ओपीडी की गई, जिसमें से 6683 पुरूषों व 2673 महिलाओं की जांच कर दवा वितरित की गई। इसके अलावा पैदल मार्ग पर 13 चिकित्सा इकाईयों में स्वास्थ्य सेवा के लिए समुचित व्यवस्था की गई है।