"खालिस्तानी गतिविधियों के खिलाफ गंभीर नहीं सरकार", हमीरपुर गांधी चौक पर AAP का हल्लाबोल

आम आदमी पार्टी ने सरकार पर मामले में अभी तक कोई कठोर कदम नहीं उठाने के आरोप लगाए। इस दौरान आप कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार के वर्तमान कार्यकाल में कानून व्यवस्था की हालत पर भी रोष व्यक्त किया।

"खालिस्तानी गतिविधियों के खिलाफ गंभीर नहीं सरकार", हमीरपुर गांधी चौक पर AAP का हल्लाबोल
आम आदमी पार्टी ने बीजेपी के खिलाफ निकाली रैली।

हमीरपुर: धर्मशाला तपोवन विधानसभा परिसर के गेट पर खालिस्तानी झंडे लगाने व दीवार पर खालिस्तान लिखने के मामले पर आम आदमी पार्टी ने हमीरपुर गांधी चौक पर रैली निकालकर विरोध जताया। जिला के विभिन्न क्षेत्रों से आए आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और उपायुक्त हमीरपुर के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर सरकार की बर्खास्तगी की मांग की। 

आम आदमी पार्टी ने सरकार पर मामले में अभी तक कोई कठोर कदम नहीं उठाने के आरोप लगाए। इस दौरान आप कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार के वर्तमान कार्यकाल में कानून व्यवस्था की हालत पर भी रोष व्यक्त किया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रदेश में अगर विधानसभा परिसर ही सुरक्षित नहीं है तो आम जनता कैसे सुरक्षित रहेगी। उन्होंने सरकार को घेरते हुए कहा कि प्रदेश की विधानसभा के गेट पर ही अगर सीसीटीवी नहीं है, इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि अन्य जगह पर क्या हालात होंगे।

"खालिस्तानी गतिविधियों पर गंभीर नहीं सरकार" 
आम आदमी पार्टी हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के अध्यक्ष सुदर्शन पटियाल ने कहा कि अगर हिमाचल की विधानसभा परिसर ही सुरक्षित नहीं है तो फिर आम जनता कैसे सुरक्षित हो सकती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जिस तरह आए दिन खालिस्तानी घटनाएं बढ़ रही हैं। उन्हें लेकर सरकार गंभीर नहीं हुई है और इतने दिन बीत जाने के बावजूद कोई कठोर कार्रवाई देखने को नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने राज्यपाल से सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है या फिर मुख्यमंत्री को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।