25 लाख की गाड़ी से 65 पेटी संतरा ब्रांड बरामद! ऊना का चालक, पंजाब का नबंर

आपके ये बता दें कि बीते कुछ महीनों से अवैध शराब के खिलाफ पुलिस लगातार अभियान चला रही है। जिले के हर थाना क्षेत्र में अवैध शराब तस्करों पर पुलिस नकेल कस रही है। जो शराब बरामद की गई है वो कांगड़ा जिला के संसारपुर टेरेस के एक उद्योग में बनी है। ये शराब कहां से आई, कहां ले जाई जा रही थी, इसे लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

25 लाख की गाड़ी से 65 पेटी संतरा ब्रांड बरामद! ऊना का चालक, पंजाब का नबंर
इनोवा से 65 पेटी अवैध शराब बरामद।

ऊनाः हिमाचल प्रदेश में अवैध शराब का गोरखधंधा ना केवल किसी एक जिले में फैला है। बल्कि तमाम हिमाचल के कोने-कोने में अवैध शराब बिक रही है। पुलिस लगातार इन तस्करों के खिलाफ अभियान चलाती रही है। लेकिन तस्करों का दिमाग देखिए कि शराब को महंगी गाड़ियों में सप्लाई किया जाता है ताकि कोई शक ना हो।

इतना ही नहीं, इतना ही नहीं अवैध शराब की तस्करी में सजा का कोई ज्यादा सख्त प्रावधान नहीं है। इसलिए तस्कर फिर से शराब बेचना शुरू कर देते हैं।

ऊना पुलिस की नजर से कल शाम एक शराब तस्कर नहीं बचा पाया। बंगाणा मंडल के तहत नाकेबंदी के दौरान पुलिस ने इनोवा कार से करीब 65 पेटी अवैध शराब बरामद की। पुलिस ने अवैध शराब तस्करी के आरोप में मामला दर्ज कर लिया है। कार सहित पूरे माल को कब्जे में ले लिया गया है। 

आपके ये बता दें कि बीते कुछ महीनों से अवैध शराब के खिलाफ पुलिस लगातार अभियान चला रही है। जिले के हर थाना क्षेत्र में अवैध शराब तस्करों पर पुलिस नकेल कस रही है। जो शराब बरामद की गई है वो कांगड़ा जिला के संसारपुर टेरेस के एक उद्योग में बनी है। ये शराब कहां से आई, कहां ले जाई जा रही थी, इसे लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। 

दरअसल, नलबाड़ी चौक पर पुलिस की टीम यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले चालकों के खिलाफ नाकेबंदी पर मौजूद थी। तभी एक इनोवा जिसका नंबर PB-07 BY-6681 था, वो नाकेबंदी के करीब पहुंची। पुलिस चालक को दस्तावेज दिखाने को कहा। पुलिसवालों ने देखा कि कार में कुछ सामान भरा है। पुलिसकर्मियों ने चालक से गाड़ी में लोड किए सामान के बारे में पूछा तो चालक की जुबान लड़खड़ाने लगी।

शक के आधार पर तलाशी ली गई। जांच करने पर गाड़ी में करीब 65 पेटियां पाई गई। इन पेटियों में में शराब से भरी बोतलें बरामद की गई। पुलिस ने चालक का नाम पता पूछा। पता चला कि विजय कुमार उर्फ बंटी निवासी त्यार (खुरवाईं) तहसील बंगाणा जिला ऊना का रहने वाला है। जांच आगे बढ़ी तो गाड़ी का रजिस्ट्रेशन पंजाब के नवांशहर जिला के मूसापुरा गांव निवासी सरवन सिंह के नाम पाया गया। 

डीएसपी कुलविंदर सिंह ने मामले की पुष्टि की। कहा कि पुलिस ने घटना के संबंध में केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच शुरू कर दी है। बरामद शराब के नमूने जांच के लिए लैब में भेजे जाएंगे। उसके बाद ये भी स्पष्ट होगा कि ये शराब नकली है या असली।