पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में 2 और गिरफ्तार, 54 अभ्यर्थियों से पूछताछ, कुल 15 चढ़े पुलिस के हत्थे, कई खुलासे बाकि

आठ मई को गिरफ्तार किए गए दोनों युवक कांगड़ा के रहने वाले हैं, जिन्हें कोर्ट ने 13 मई तक पुलिस रिमांड पर भेजा है। इन आरोपियों की पहचान बलविंद्र सिंह निवासी कुठेड़ा तहसील जवाली और अभिषेक निवासी 39 मील शाहपुर के रूप में हुई है।

पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में 2 और गिरफ्तार, 54 अभ्यर्थियों से पूछताछ, कुल 15 चढ़े पुलिस के हत्थे, कई खुलासे बाकि
पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में 2 और गिरफ्तार।

कांगड़ा: हिमाचल प्रदेश पुलिस कॉन्स्टेबल पेपर लीक मामले में सोमवार को 54 अभ्यर्थियों से पुछताछ की गई। मामले में आठ मई की रात को दो अन्य अभ्यर्थियों को भी गिरफ्तार किया गया है। अब गिरफ्त में लिए गए आरोपियों की कुल संख्या 15 हो गई है, जिनमें जिला कांगड़ा और ऊना के 13 आरोपियों के साथ-साथ एक उत्तराखंड के केशव नगर लबराहिमपुर और एक पंजाब के मुकेरियां का रहने वाला है।

आठ मई को गिरफ्तार किए गए दोनों युवक कांगड़ा के रहने वाले हैं, जिन्हें कोर्ट ने 13 मई तक पुलिस रिमांड पर भेजा है। इन आरोपियों की पहचान बलविंद्र सिंह निवासी कुठेड़ा तहसील जवाली और अभिषेक निवासी 39 मील शाहपुर के रूप में हुई है। वहीं, ऊना में एक युवक की गिरफ्तारी के बाद जिला में कार्रवाई तेज कर दी गई है। कुल्लू जिला में भी 20 अभ्यर्थियों को पूछताछ के लिए बुलाया गया। 

हमीरपुर में भी कार्रवाई तेज
वहीं, हमीरपुर पुलिस ने सोमवार को 28 अभ्यर्थियों और रविवार को भी एक अभ्यर्थी व उसके पिता समेत तीन लोगों से पूछताछ की थी। पूछताछ के दौरान हमीरपुर का एक निजी होटल भी जांच के दायरे में आया है। पुलिस ने होटल प्रबंधक से लिखित परीक्षा से कुछ दिन पहले होटल में ठहरे लोगों की जानकारी जुटाई है। बताया जा रहा है कि कुछ अभ्यर्थी परीक्षा से एक रात पहले इस होटल में रुके थे और बाहरी स्टेट नंबर की एक कार में कुछ लोग होटल परिसर तक आए थे और होटल में ठहरे दो अभ्यर्थियों से लंबी बातचीत की थी।  

होटल में ठहरे ये दोनों अभ्यर्थी हमीरपुर के रहने वाले हैं, ऐसे में होटल में रुकने का औचित्य अटपटा है। इसलिए पुलिस को शक करने की वजह मिल रही है। इस पूरे विषय पर जांच जारी है। हालांकि हमीरपुर पुलिस अधीक्षक आकृति शर्मा द्वारा इस बारे में जानकारी साझा नहीं की गई। एसपी ने बताया कि सोमवार को पूछताछ के बाद सभी अभ्यर्थियों को वापिस भेजने के बाद मंगलवार को अन्य अभ्यर्थियों को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। 

सीएम बोले- अभ्यर्थियों को दी जाएगी निशुल्क परिवहन सुविधा
वहीं मामले पर जानकारी देते हुए सीएम जयराम ने कहा कि पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती लिखित परीक्षा में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों को निशुल्क परिवहन सुविधा मुहैया होगी। अभ्यर्थियों को परीक्षा में बैठने के लिए जारी किया गया अपना प्रवेश पत्र ही दिखाना होगा। सरकार ने पारदर्शी और निष्पक्ष परीक्षा करवाने के लिए कॉन्स्टेबल भर्ती की लिखित परीक्षा रद्द किया है।